सनातन पाथेय : जाग्रत

Rs.20.00
सनातन पाथेय : जाग्रत
VRM Code: 
3089
Publication Year: 
2012
Edition: 
1
Format: 
Soft Cover
Pages: 
58
Volumes: 
1
Rs.20.00

जीवन के ध्येय मार्ग का महत्व जानने और ध्येयगामी साधक बन संकल्प-शक्ति से जीवन मूल्य को पहिचानने हेतु, स्थायी पाथेय की प्राप्ति करें - " सनातन पाथेय " - से। भौतिक उन्नति व उपभोग को छुटकारा दिलाने का प्रवाभी शस्त्र - भारतीय जीवन पद्धति व आध्यात्मिक जीवन मूल्यों का पूरा पाथेय यह पुस्तिका प्रदान कर रही है। पुस्तिका के सभी लेख विवेकानन्द केन्द्र के अध्यक्ष माननीय पी परमेश्वरन् का अनुभवपूर्ण प्रसाद है। लेखों में भारत की सांस्कृतिक यात्रा के लिए ऋषियों द्वारा प्रदत्त सनातन पाथेय की ही समयानुकूल व्याख्या पढ़ने को मिलेगी। सभी लेखों में इन ऋषितुल्य व्यक्ति की छ: दशक की पूर्ण समर्पित ध्येय यात्रा के अनुभव का परिपाक हम इन लेखों मे पाते हैं।

Share this